कैमरे का आविष्कार किसने किया?

हमारी आंखें अलग-अलग देशों को देखती रहती है और उन राशियों को याद करके बहुत खुश होती हैं कुछ समय बाद इन तस्वीरों को याद कर पाना बहुत मुश्किल होता है इसलिए लोगों द्वारा सबसे पहले पेंटिंग का आविष्कार किया जाए लोग प्रिंटिंग बनाया करते थे एक दूसरे की आकृति बनाया करते थे ताकि उस आकृति को देखकर आप उस पल को याद कर सकें


इसलिए लोगों ने पहले पेंटिंग का आविष्कार किया लोगों ने पेंटिंग बनाना शुरू की और इसका व्यापार भी शुरू किया लेकिन पेंटिंग बनाने में बहुत समय लगता था जब यह समय ज्यादा लगने लगा और आकर की भी समान नहीं हो पाती थी तब लोगों ने तस्वीर के बारे में सोचा कि क्यों ना ऐसे ही तस्वीर निकल जाए तब कैमरे का आविष्कार किया गया से पहले कैमरे का आविष्कार Joseph Nicéphore Niépce द्वारा किया गया कैमरा नामक यंत्र बनाया इस संयंत्र से माना जाता है कि तू बहू तस्वीर उतारी जा सकती थी जो लोगों को बहुत पसंद आई और यहीं से कैमरे का आविष्कार शुरू हो गया


दुनिया के मशहूर लियोनार्दो डा विंची ने सबसे पहले कैमरे को अच्छे से समझने का प्रदर्शन किया और एक छोटे से देखा जाता है तो साफ-साफ दिखाई देता है जब उन्होंने देखा कि अंधेरे में सोते चित्र को देखकर उसकी परछाई उल्टी दिखाई पड़ती है इस वजह से उन्होंने नजरिया और सबसे पहला कैमरा मॉडल तैयार किया और कैमरे का आविष्कार सफल हो पाया और इसी की वजह से आज हम अपने तस्वीरें तथा अन्य देशों को अपने ही फोन में देख सकते हैं धीरे-धीरे तकनीकी यंत्रों पर चलते कैमरे का आविष्कार लगातार चलता रहा लिओनार्दो दा विंची ने कैमरे के लिए कई प्रयास किए और अलग-अलग प्रयास करके उन्होंने चित्र बनाकर दीवार पर छाप कर के प्रयास किए तब आज के समय में कैमरों का इतना सफल हो पाया है

की वजह से हम किसी का भी फोटो अथवा तस्वीर साथ लेकर चल सकते हैं अपने फोन में ही लाखों-करोड़ों तस्वीरें साथ लेकर चल सकते हैं इस तरह के अविष्कार लगातार चलते रहे 1824 में इस कैमरे का आविष्कार करने वाले ने बहुत आविष्कार किए हैं तब कैमरों का ऊपर करा पाना कमल हो पाया है!


लिओनार्दो दा विंची की वजह से इस कालांतर पर एक छोटा चित्र बनाकर उसको अवशेष देकर उस पर उत्तल लेंस लगाया गया है उत्तल लेंस लगाने की वजह से लिओनार्दो दा विंची को इसमें सफलता प्राप्त हुई है और 45 अंश के कोण पर एक समतल दर्पण पर भी लगाया गया है इस आधार पर और भी सुविधा युक्त कैमरे बनाना शुरू कर दिया गया लगातार इसी आधार पर प्यार करने पर कैमरों का इतना साफ आना निश्चित हो पाया है

और आज कैमरो का इतना साफ आने की वजह से ही काम बहुत आसान हो गया है लोग अपने जैसे ही फोटो ले भी घूम लेते हैं हम लोग फोन का इस्तेमाल बहुत यूज़ करते हैं अपने फोन में लाखों-करोड़ों लोगों की तस्वीरें लेके घुमा करते हैं जिसके बारे में उनको खुद नहीं पता होता और इतनी शानदार तस्वीरें जिनको आपको के मुकाबले थोड़ा कम आता है लेकिन इतना साफ दिखना अद्भुत बात है जो लियोनार्दो डा विंची के खोज के कारण हुआ है साथ ही साथ इन्हीं के नए-नए तकनीक यंत्र के दौरान ही कैमरों का इतना साफ आना जो कांच के समान देखते हैं

कि हम शीशे में ही खुद को देख रहे हैं इतना सा देख पाना और किसी तस्वीर का किसी कागज पर हो छप जानासफल हो पाया है!
हालांकि बहुत कम लोगों को उनके बारे में ज्ञान है लेकिन हम उन सफल और महान लोगों का धन्यवाद करते हैं जो उस समय में इतनी मेहनत करके आज के समय को इतना अद्भुत कर पाए हैं!

Leave a Comment